मेरी गर्लफ्रेंड की प्यास – Girlfriend Ki Fantasy – Adult Hindi Kahaniya

 नमस्कार दोस्तों आपका सागत है Adult Hindi Kahani इस कहानी मे। आज में आपको बताऊँगा मेरी गर्लफ्रेंड की प्यास की कहानी। आपको  कैसा लगा हमारे मेरी गर्लफ्रेंड की प्यास की कहानी Adult Hindi Kahani नीचे लिखकर जरूर बताए। 


मेरी गर्लफ्रेंड की प्यास – Girlfriend Ki Fantasy – Adult Hindi Kahaniya


मैं अबीर, मेरी गर्लफ्रेंड रिया,,, या बाऊ भी, क्योंकि हम शायद 1-2 महीने में शादी कर रहे हैं… हालाँकि हम एक-दूसरे को पति-पत्नी के रूप में स्वीकार करते हैं,,,, और दोनों परिवार सहमत हैं,,,,, मेरी एक कंपनी में नौकरी परिपक्व हुई,,, और अभी-अभी अपना कॉलेज पूरा किया है… हाँ हम एक ही उम्र के हैं… 11वीं कक्षा से प्यार, 5 साल बीत गए… अब हम 22 साल के हैं
अब से हम पति-पत्नी हो गए… हर रात फोनसेक्स,,, केवल एक बार साथ में रात बिताई,,,, 5 मिनट तक दूध दबाने और मेरी बुर चूसने के बाद माल निकल गया… उसके बाद कुछ नहीं हुआ.
रिया मुझसे बहुत प्यार करती है… लेकिन मैं थोड़ा व्यभिचारी हूं, हां… मेरी बहुत बड़ी कल्पना है कि रिया मेरे सामने किसी दूसरे आदमी के साथ संबंध बना रही है, और मैं इससे बाहर निकलने वाली हूं… रिया को बात पता है,,,, लेकिन वह ऐसा कभी नहीं करेगी… वह बहुत अच्छी लड़की है. मैंने 2 बार रिक्वेस्ट की, लेकिन दोनों बार गुस्सा होकर फोन रख दिया…
लेकिन जब आप यह सोच कर फोनसेक्स पर धोखा करते हैं कि मेरा कोई दोस्त तुम्हें चोद रहा है… तो मजा नहीं आता… लेकिन हकीकत में वह ऐसा कभी नहीं करेगा…Adult Hindi Kahaniya
बहरहाल, असली कहानी पर आते हैं

दोपहर 12 बजे पीछे से कॉल आई
– आप क्या फालतू कर रहे हैं?
– मैं लेटा हूं
– और?
– और वह कर रहा हूँ
– वह क्या है?
– इसका मतलब है कि… आप ही आदमी हैं
– नहीं, मुझे नहीं पता, आप समझाइये
-……. मैं चावल खा रहा हूँ
– कुंआ…। तो आप किसके बारे में सोच रहे हैं?
-तुम्हारे बारे में फिर कौन बात कर रहा है!
– हम्म… मैं समझता हूं कि आप पूरा लंग्टो खा रहे हैं? कितने दिन हो गये?
– हां, मैं पूरी लंग्टो खा रहा हूं.. और मैंने 11 बजे से शुरुआत की थी… लेकिन अब आपका समय हो गया है…
– उम्म्म्म… तुम्हें लगता है कि अभी तुम्हारा मूड ख़राब है… तो आज तुम कल्पना में मुझे किसके साथ चोद रहे हो?
-…….
राजीव द्वारा… मेरे कॉलेज मित्र।
– क्या आपकी कल्पना में कोई दोस्त बचा है?
– शायद 2-3 लोग होंगे.
– उम्म्म, छोटे बाबाजी का क्या हाल है,,, एक तस्वीर भेजो और देखते हैं…

मैंने तुरंत अपनी डिश की खरोंची हुई हालत में एक तस्वीर भेजी
– अरे माँ, छोटे पापा चॉप चॉप कर रहे हैं… मैं जाकर चूसूँ या नहीं?
– नहीं, तुम अभी राजीव का लंड चूस रही हो… उसके सामने घुटनों के बल बैठ कर,, और राजीव का लंड अपने मुँह से चूस रही हो और तुम्हारा गीला दूध उस पर गिर रहा हो। चलो शूटिंग शुरू करते हैं… आआआआ
– क्या आप केवल दूध की टिप देते हैं? कुछ और मत करो?
– हम्म्म मैं ये करूँगा… लंड मुँह से निकालो और जब तुम बिस्तर पर होगी तो मैं तुम्हें सुबह चोदूंगा, राम चोदा चोद,,, फिर मैं तुम्हारे दूध चूसूंगा और तुम्हारे होंठ चूसूंगा ….Adult Hindi Kahaniya
– तब?
– फिर वो तुम्हारी चूत से धों को निकाल कर दोबारा तुम्हारे मुँह में देगा… और इस बार मैं सामने बैठ कर देखूंगा और धों को खींचूंगा.

– पापा!!! मेरे भावी वर की कल्पना क्या है!!…. क्या मुझे शादी से पहले यह हाल मालूम था? शादी के बाद तो शायद सारा मुहल्ला दुल्हन को चोदेगा।
वैसे भी कल तुम्हारा जन्मदिन है…
– हाँ
– तो बताओ तुम्हें क्या गिफ्ट चाहिए… तुम जो चाहोगी, तुम्हें मिल जाएगा

(मैंने कुछ देर चुप रहने के बाद थोड़े शैतानी लहजे में कहा)
– आप मुझे वह नहीं दे सकते जो मैं चाहता हूँ
– किसने कहा… आप एक बार देखिये,,,,,
तुम जो चाहोगे मैं तुम्हें दूँगा। अपने प्यार

(“और कौन इसे प्राप्त करता है? मैं देखने के लिए बैठ गया… हालांकि मुझे पता है कि यह असंभव है”)।
– तो फिर मेरा इतने दिनों का सपना पूरा करो…
……(रिया ने थोड़ी देर चुप रहने के बाद कहा)
– मुझे सब कुछ बता… आप क्या चाहते हैं और आप क्या चाहते हैं?
(मुझे आश्चर्य है… क्या रिया सचमुच मेरे सपने पूरे करेगी!!?)
उसके बाद मैंने कहा
– मैं चाहता हूं कि तुम मेरे सामने किसी दूसरे व्यक्ति के साथ सेक्स करो,… मैं सच में चाहता हूँ कि कोई और तुम्हें चोदे…लंग्टो तुम्हें चोदे…और जैसा कि मैंने पहले कहा था…।
मैं तुम्हारी वो चूत चाटना चाहता हूँ जो पहले किसी और का लंड चूसती थी..,,,, मैं तुम्हारे वो होंठ चूसना चाहता हूँ जिन होठों से तुम किसी और का लंड चूसती थी.. मैं तुम्हारा वो रसीला दूध चूसना चाहता हूँ, वो दूध किसी और के फड़े में चक चक,,,,,,, और भी बहुत कुछ…..
– ठीक है, जो भी तुम चाहो… लेकिन मेरी कुछ शर्तें हैं…
(मैं आश्चर्यचकित हूं!!! क्या सच में मेरे सपने पूरे होंगे!!!? फाडा अपाने अपे मेरी धुन के साथ…मेरी इतनी लंबी कल्पना पूरी हो गई! मुझे विश्वास नहीं हो रहा…मैं खुशी के साथ चरमसुख की ओर जा रहा हूं.. .. मैंने बड़ी मुश्किल से अपने आप पर काबू पाया) उसके बाद मैंने कहा
– मैं आपकी हर बात से सहमत हूं। मुझे बताओ

– परसों मेरे मम्मी-पापा और मौसी सुबह घर जाएंगे, 3-4 दिन बाद आएंगे… तो आप रात 10 बजे के करीब हमारे घर आना, आधी बांह की टी-शर्ट या ट्रैक पैंट पहनना अंदर कोई सलैक्स या अंडरवियर नहीं….Adult Hindi Kahaniya


– पूरी सड़क सीधी रहेगी
– यही हमें चाहिए
तो वो तुम्हारे आने के कुछ देर बाद आएगा,,,,,
-ओ मतलब!!???? (मैंने बहुत आश्चर्य से पूछा)
– आपकी भाषा में उसका मतलब है कि वो मुझे चोदेगा
-…………. (मुझे कुछ देर के लिए चुप रहना पड़ा, मेरा गला मजबूत होने लगा,,, एक अनजाना सा सुख, एक अनजाना सा अहसास….,,,, मेरी गर्लफ्रेंड जो कुछ दिनों बाद मेरी पत्नी बनेगी, एक से चुदेगी मेरे सामने अनजान आदमी….या आज तक मैंने रिया को चोदा ही नहीं,,, मुझे जितना आश्चर्य हुआ उतनी ही मेरी उत्तेजना असीमित होने लगी…….)
मैंने किसी तरह खुद को संभालते हुए कहा
– तब?
– फिर या क्या,,, सब कुछ वैसा ही होगा….
लेकिन…..
– क्या पर?
उस दिन तुम मुझे छू नहीं सकती, और जो आएगा उस पर कोई प्रतिक्रिया नहीं दोगी, लेकिन तुम हमारी चुदाई नहीं रोकोगी… मैं भी तुम्हारी ताकत देखूंगी…
– और?
– या तुम्हें मेरा कोई हिस्सा नहीं मिलेगा
मेरा मतलब है, वह और मैं पूरी रात जो कुछ भी करते हैं, आपको बस सोफे पर बैठकर देखना होगा, या आप इसे देख सकते हैं।
– लेकिन…
– क्या पर?
– मैं उस अवस्था में आपके करीब जाना चाहता हूं
– उम्म्म्म ठीक है… लेकिन उसके साथ सब कुछ होने के बाद…
(थोड़ा डर भी मिला और एक अनजानी खुशी भी मिली)
मैंने कहा था
– मुझे आपकी सभी शर्तें मंजूर हैं…लेकिन मेरी एक और इच्छा थी जो मैंने आज आपको नहीं बताई…।
– आप क्या चाहते हैं?
– जब यह सब होगा तो मैं चाहता हूं कि जो व्यक्ति आपसे पीड़ित होगा वह अंत में अपना मुंह आपके मुंह में डाल दे या मैं उसी अवस्था में आपको चूम लूंगा…
-……. (रिया ने कुछ देर चुप रहने के बाद कहा) ठीक है, हम देखेंगे
लेकिन अब हम सोने के बाद एक दूसरे को देख रहे हैं
– मेरा मतलब है! कल बात नहीं करेंगे?!!!
– नहीं
– क्यों!?
– मुझे यह आपके जन्मदिन पर पता चल जाएगा… चिंता मत करो, मैं बिना जाने ही उत्साहित हो जाऊंगा…. खैर, अब अलविदा।
– इंतज़ार…। बताओ मेहमान कौन है!???
– मैं अतिथि अप्पायन के दिन पता लगाऊंगा…
– अच्छा ठीक है, सावधान रहें अलविदा…लव यू…
-ह्म्म्म अलविदा, मैं भी तुमसे प्यार करता हूँ…
इन्हीं बातों पर चर्चा करते-करते रिया ने फोन रख दिया और ध्यान ही नहीं रहा कि 1:30 बज गए… सचमुच मेरी कल्पना साकार होगी!!! रिया जो सच में किसी गैर मर्द का मजा लेगी! सारी रात फिर मेरे सामने चुदबे!!!! कौन है वो खुशनसीब लड़का ये भी जानने को है बेहद उत्सुक… लेकिन मुझे कल रात को सब पता चल जायेगा……. हालाँकि मैंने रिया को अपने दोस्तों के साथ फंतासी में चोदा… लेकिन रिया हकीकत में ऐसा कभी नहीं करेगी क्योंकि रिया मेरा कोई भी दोस्त डेरी से बात नहीं करता, या मेरा दोस्त राव जानता है कि रिया एक बहुत अच्छी लड़की है… तो के चोदबे रिया के!!!???!!!
यही सोचते-सोचते मेरी योनि से माल निकल गया, योनि का अग्र भाग पेट से दब गया…. मैं उसी अवस्था में सो गई…Adult Hindi Kahaniya

“जन्मदिन का दिन”
आख़िरकार आज मेरा जन्मदिन है… पूरा दिन बिताने का क्या तरीका है!!! उसके बाद मैंने रिया से बात नहीं की. अब रात के 9:30 बज चुके हैं, मैं तैयार हूं जैसा रिया ने कहा था… टी-शर्ट या ट्रैक पैंट अंदर कुछ भी नहीं या ट्रैक पैंट बहुत पतला है,,,, तो हाँ अभी भी है… मेरी 7वीं पोशाक बहुत खड़ी है…. ठीक 10 टाई मैं उसके घर गया, बाहर का गेट खुला था,,,, बालकनी के पार जब मैं कमरे के सामने गया और दरवाज़ा खटखटाया, तो मैंने दरवाज़ा हल्के से खोला… रिया ने दरवाज़ा खुला रखा…। घर की लाइट बंद है, मैं घर में प्रवेश करूंगी और फोन के फ्लैश पर दरवाजा खोलूंगी, रिया ने धीरे से कहा
– दरवाज़ा बंद रखें और उसे खटखटाएं नहीं

माथे पर धूल बढ़ गई है, थोड़ी देर बाद वह इसी दरवाजे से आएगा।
मैंने दरवाज़ा खोला और फ्लैश की रोशनी में बोर्ड पाया और लाइट स्विच चालू कर दिया।
पानी में रोशनी उठी,,,,बिस्तर के ठीक ऊपर, पूरी रोशनी बिस्तर को उजागर कर रही थी,,,, बिस्तर को गुलाब की पंखुड़ियों से सजाया गया था जैसे पूरी फूलों की सजावट की रात हो…. जैसे शादी के बाद पति-पत्नी के व्यभिचार के लिए घर को फूलों से सजाया जाता है। पूरा बिस्तर गुलाब की पंखुड़ियों से ढका हुआ है….रिया बिस्तर पर अपनी पीठ मोड़कर बैठी है, उसकी पूरी पीठ पीछे से ढीली है, बीच में एक संकीर्ण धागे की पट्टी है, उसकी गांड लगभग 4 उंगलियाँ बाहर निकली हुई है,
मैं बिस्तर से 6 7 फीट दूर खड़ा था, रिया उठकर मेरे सामने आ गयी… और वह शादी की पोशाक में है… गहरे सुनहरे रंग का लहंगा पहने हुए है जो थोड़ा कम कट है… लगभग 1 अतीत नाभि के नीचे गुदा के ऊपर 2 तरफ का पायदान बहुत स्पष्ट है या पीछे 4 अंगुल का बट समझा जा सकता है…
ओह!!! पीछे की आकृति का उल्लेख नहीं किया गया था
गांड 38 कमर 30 या स्तन 36…. दूध एकदम खड़े या मोटे और मुलायम होते हैं और ऊपर से एक ब्लाउज जिसमें ब्रा से ज्यादा कपड़े नहीं होते,,,, गहरा रंग, ब्रा जैसा ब्लाउज…. जिससे उसके नीचे का 40% दूध ढक गया… या पीछे से पूरी पीठ लम्बी है…. समझे कि ब्लाउज के नीचे ब्रा नहीं है….
चेहरे पर हल्का मेकअप, पीछे का रंग बहुत सुनहरा, बेहद सेक्सी लग रहा है… चेहरा, पीठ, छाती, पेट, पूरा शरीर कांप रहा है।Adult Hindi Kahaniya

दोनों कानों में दो बड़े सोने के झुमके…नाक में एक बड़ी अंगूठी,,, जिसमें से एक छोटी सी पतली चेन बायीं बाली से जुड़ती है…गला खाली,,,, सच में मैं थोड़ी देर के लिए सब कुछ भूल गया…. उतना ही रिया के रूप में टाई सुंदर और सेक्सी लग रही है, रात की शादीशुदा फूल दुल्हन की तरह। लेकिन अगर रिया किसी शादी समारोह में इस ड्रेस में बैठेगी,,,, तो शायद शादी वाले घर में मौजूद सभी मर्द उसे फूलों की सजावट वाले बिस्तर पर पटक कर खा जाना चाहेंगे… बिस्तर में कौन चोदना चाहता है.
इस आउटफिट में मुझे रिया से बहुत प्यार है.. लेकिन ये आउटफिट मेरे लिए नहीं है, आज कोई और रिया को इस लुक में एन्जॉय करेगा।
या फिर कायरों की तरह उस मंजर को देखकर कीमत चुकाऊंगा….

– आप क्या सोचते हैं?
…….. (मुझे पता ही नहीं चला कि कब रिया मेरे सामने खड़ी थी)
-सोच रहा हूँ… तुम कितनी खूबसूरत हो!!!! आपका पूरा शरीर,,, आपके एक हिस्से का आनंद आज कोई और लेगा…. आप एक परीलोक की अज्ञात देवी हैं…
“आप मेरा सपना सच करने वाली देवी हैं”

– टी-शर्ट खोलें

मैंने टी-शर्ट खोल दी
रिया ने सीधे खड़े होकर मेरे धोन की तरफ देखा और उसे देखने के बाद मुझे समझ ही नहीं आया कि कब उसकी पैंट गीली हो गई और पूरी कट गई।

– अब पैंट खोलो

मैंने अब अपनी पैंट उतार दी, मैं पूरा नंगा था, मेरे 7 के लंड पर रस लग रहा था…

– अब जाकर सोफ़े पर बैठो
मैं सोफे पर जाकर बैठ गया
दरवाजे पर दस्तक हुई, मैं समझ गया कि मेहमान आ गये हैं।
रिया बिस्तर पर गई और मेरी नजर रिया पर पड़ी
जैसे ही मैंने दरवाज़ा बंद होने की आवाज़ सुनी तो मैंने दरवाज़े की ओर देखा… और देखते ही मेरे पैरों के नीचे से जमीन खिसक गई… ये राजीव है! मैं शायद 1 महीने के लिए अपने कॉलेज के दोस्त राजीव से मिला, और मैंने उसे रिया से भी नहीं मिलवाया!???? और मुझे विश्वास है कि मैंने अपनी कल्पना में रिया को राजीव के साथ चोदा है… और मैंने इसके बारे में रिया को परसों बताया था…. लेकिन क्या!!!!!!?????Adult Hindi Kahaniya
ऐसे हजारों सवाल मेरे मन में उठे.
इतने में राजीव बिस्तर पर पहुंच गया,,, मुझे लगा कि शायद राजीव रिया को गले लगा लेगा और बिस्तर पर लेट जाएगा, लेकिन नहीं, उसने रिया का हाथ पकड़ा और उसे नीचे ले आया, जैसे ही वह अपने होंठ रिया के होंठों के पास लाया, रिया ने उसके होंठों पर कब्जा कर लिया। होंठ…. चुम्बन का दौर शुरू हुआ, ऊपरी होठों से शहद चूसने का एक मधुर क्षण शुरू हुआ… राजीव अपनी आँखें बंद कर रहा है और रिया के होंठ चूस रहा है और रिया जवाब देने में संकोच नहीं कर रही है ओउ अपनी आँखें बंद कर रही है और राजीव के होंठ पागलों की तरह चूस रही है।
ये कैसा सीन है? रिया एक दिन मेरी दुल्हन बनेगी और आज से मैं उसे दुल्हन के रूप में स्वीकार करता हूं,,, लेकिन मैं कैसा आदमी हूं…
इस तरह राजीव ने रिया को गले लगा लिया और कुछ देर होंठ चूसने के बाद मेरी तरफ घूम गया, रिया मेरे सामने पीछे मुड़ गई।
एक दूसरे को चूमते-चूमते राजीव का हाथ पीछे की गांड पर पहुंच गया, गांड को थपथपाने लगा, राजीव पीछे की 38 साइज की गांड को दो हिस्सों में मसलने लगा.. और पीठ को छूने लगा.. रिया भी उत्तेजना के मारे गोगा करने लगी,,,,, रिया ने लहंगा थोड़ा नीचे किया और दोनों हाथ लहंगे के अंदर डाल दिए। रिया ने अंदर पैंटी नहीं पहनी है… नितंब आधा खुला हुआ है…
कुछ देर ऐसे ही चलने के बाद राजीव ने एक झटके से रिया को अपनी तरफ घुमाया, रिया को अपने माथे पर खींच लिया और पीछे से उसके पेट को छूने लगा और उसकी गर्दन और गर्दन को चूमने लगा.. रिया ने अपनी आँखें बंद कर लीं और सब कुछ महसूस किया… राजीव का हाथ उसके पेट से रिया के दूध तक गया,,,, दूध को दबाने लगा,,, पीछे के 36 साइज के दूध ब्लाउज के ऊपर आ गए और राजीव उसे दबाने लगा.. .थोड़ी देर बाद रिया ने दूध दबाया।एक हाथ दूध से नीचे आया और पेट के साथ लहंगे के अंदर चला गया। हाँ, अब राजीव के हाथ ने मेरे पति की चूत पर कब्ज़ा कर लिया है….
रिया अब चुप नहीं रह सकी और बोली गोगेट गोगेट……

-उम्म्म ओह राजीव! क्या कर रहे हो पागल!!! अब मैं पागल हो जाऊँगा,,, अब मुझसे रहा नहीं जाता,,, अब मुझे लंग्टो करो… चोदो बिस्तर पर,,, मैं अब और नहीं सह सकता….

राजीव ने एक हाथ से रिया के दूध दबाये और दूसरे हाथ से उसकी चूत थपथपाते हुए बोला- ओरे मागी,,,, सबे तो असलम… क्या कर रहे हैं, अभी भी सारी रात सो रहे हैं…।

जब राजीव ने रिया को मागी कहा तो मेरे शरीर में एक अलग तरह की उत्तेजना पैदा हो गई, धौंस और तेज हो गई…

राजीव ने अपने दाहिने हाथ को ब्लाउज के ऊपर से और बाएँ हाथ को पीठ के ऊपर से पीछे के दाहिने स्तन को दबाया और ब्लाउज की रस्सी खोल दी।,,, यह दृश्य मैं अपने जीवन में पहली बार देख रहा हूँ,,,,
राजीव दोनों हाथों से दो दूध दबाने लगा,,,,,Adult Hindi Kahaniya
दूध का कप खाते हुए रिया ने मेरी तरफ देखा, उसके चेहरे पर इस वक्त वासना की आग जल रही थी… रिया मेरी आँखों में एक तरफ देख रही है….और दूध के टप्पन खा रही है,,,,शायद उसकी आँखें मुझसे ये कह रही है….देखो जो तुम चाहते हो वही हो रहा है बेवकूफ, तुम्हारे सामने तुम्हारी बीवी तुमसे चुदने को तैयार हो रही है दादाजी…
रिया की आंखों पर नजर रखते हुए मैंने अपने धों पिंजरे की स्पीड बढ़ा दी, रिया ने तुरंत राजीव का हाथ दूध से हटाया और उसके सामने घुटनों के बल बैठ गई,,,, राजीव टी-शर्ट और हाफ पैंट पहनकर आया,,,, रिया उसे खींच लिया। उसने अपनी पैंट उतार दी और उसे नीचे खींच लिया,,,, अपनी पैंट उतारते समय, राजीव का लंड रिया के मुँह में खेल रहा था,, राजीव का लंड लगभग 9 इंच का है और बहुत मोटा है,,,, उसका लंड गीला और टेढ़ा है। , रिया ने एक बार मेरी तरफ देखा और राजीव के चेहरे पर चाहत झलक रही थी। उसने लंड को मुँह में ले लिया और चूसने लगा, राजीव ने तुरंत अपने दोनों हाथ रिया के सिर के पीछे से हटाये और उसे पीछे खींचने लगा।
रिया पूरे 9 इंच के लंड को अपने मुँह में लेती है और ब्लूजॉब देती है, उसे नहीं लगता कि यह पहली बार उसके मुँह में लंड ले रही है,,,, वह पूरे लंड को पागलों की तरह चूसती है, कभी-कभी वह उसे अपने मुँह से बाहर निकाल देती है। उसका हाथ, और फिर उसके मुँह में। सुबह-सुबह राजीव के घुटनों ने नीला काम करना शुरू कर दिया, राजीव के मुँह से हल्की-हल्की पीली आवाज़ निकलने लगी, जो रिया के मुँह की लार में मिल गई और उसके मुँह से चूस ली गई और शुरू हो गई उसके दूधिया दूध पर गिरने के लिए… बस एक दर्शक, धोन खेचा के अलावा कोई और रास्ता अपनाता हूं,,,,,

लगभग 10 मिनट तक लगातार ऐसे ही चलने के बाद रिया खड़ी हो जाती है, वे फिर से चूमना शुरू कर देते हैं,,, राजीव दोनों हाथों से रिया के स्तन दबाता है और रिया भी अपने दाहिने हाथ से राजीव के स्तनों को पकड़ती है और अपने बाएं हाथ की उंगलियों से खाती है… …
उसी स्थिति में किस करते-करते राजीव ने अपनी टी-शर्ट उतार दी,,, तुरंत लहंगे का पिछला पट्टा खींचकर खोल दिया। धागा तक ले जाता है,,,,,Adult Hindi Kahaniya
मैं पहली बार रिया को नंगा देख रहा हूँ, लेकिन मेरी किस्मत कैसी है,,
मैं पहली बार अपनी होने वाली पत्नी को किसी और के साथ सेक्स करते हुए देख रहा हूं, और आश्चर्य की बात तो यह है कि दो दिन पहले तक जो लड़की मेरी फंतासी सुनकर फोन रख देती थी, वह गुस्सा हो जाती थी,,, और आज भी हकीकत में. सामने एक अनजान आदमी का लंड उसकी चूत लेने की तैयारी कर रहा है,,,,,
कुछ देर ऐसे ही चलने के बाद राजीव ने रिया को खींच कर बिस्तर पर गिरा दिया, राजीव बिस्तर के किनारे घुटनों के बल बैठ गया।
राजीव ने रिया की टाँगें पकड़ कर इतनी जोर से खींची कि रिया की चूत सीधे राजीव के मुँह पर आ गई और घर बजाने लगी,,, और कौन, रिया की टाँगें गर्दन पर उठा ली और राजीव रिया की चूत चाटने लगा बाके चिल्लाने लगी,,,,

राजीव गीले संतरे नींबू की तरह चूत चाट रहा है,,,,, रिया अपनी आँखें बंद कर रही है और बस गुनगुना रही है,,,, 5 मिनट तक लगातार चूत चाटने के बाद असली खेल शुरू हुआ,,,,, राजीव खड़ा हुआ और अपना काम शुरू किया सुबह 9 का लंड दिलो रिया गुडे,,,,,रिया इतनी जल्दी इसके लिए तैयार नहीं थी,,,वो चिल्लाई,,,
आह
अब धड़कन शुरू हो गई, पूरा 9 इंच का लंड पीछे की चूत में अंदर-बाहर हो रहा है,,,,, दो स्तन एक दूसरे को दबा रहे हैं और एक दूसरे को खूब चुम्मा दे रहे हैं,,,,,

सुबह-सुबह पूरा घर थप-थप की आवाज से जग गया, साथ ही रिया की चीखें,,,, बिस्तर पर अब तक हर थप-थप की आवाज पकड़-पकड़ की आवाज आ रही थी।
20 मिनट तक लगातार पेलने के बाद राजीव थोड़ा शांत हुआ,,,,,,,,,,,,,,,,,,,,,,,,,, ,,.

राजीव को वास्तव में बाथरूम मिल गया, और वह थोड़ी देर के लिए कमरे से बाहर चला गया

घर में इस वक्त सिर्फ मैं और मेरी होने वाली दुल्हन हैं, जो अब किसी और की पार्टनर हैं।

रिया उसी हालत में मेरे सामने आ गई, जब मैं सोफे पर बैठा था तो उसकी चूत ठीक मेरे चेहरे के सामने थी.
रिया कहती है- क्या तुम अपने पति की योनि को दूसरे मर्द की योनि में नहीं चटवाना चाहोगी?

मैं बिना कुछ कहे चुपचाप उसकी चूत की तरफ देखता रहा.
रिया अपने हाथ मेरे सिर के पीछे रखती है और झटके से मेरा चेहरा अपनी चूत में खींच लेती है,,,,, मेरे होंठ उसकी चूत की पंखुड़ियों पर सेट हो जाते हैं,,,,, मैं अपना हाथ उसकी गांड पर ले जाता हूं,,, एक मैंने शुरुआत की मेरी गांड और चूत को पागलों की तरह चाटो।
रिया अपना दाहिना पैर मेरे कंधे पर रखती है,,,, मैं एकनगर में अपने होने वाले पति की चूत चाटने जा रही हूं,,,, रिया जोर से सांस लेने के लिए कहती है- चाट भेनचोद,,, चाट कर सारा फाडा साफ कर दो,, ,,थोड़ी देर बाद मेरी नाक फिर आएगी और तेरे पति की चूत में शहद डाल देगी,,,,, चाट मादरचोद। एक गीली बीवी की चूत दूसरे के लंड पर चाटना? तो चैट खानकी का बेटा,,,,,,चैट,,,Adult Hindi Kahaniya
मैंने पहली बार उसका मुँह सुना, मुझे कोई आश्चर्य नहीं हुआ।
अचानक दरवाज़ा बंद होने की आवाज़ से मैं थोड़ा चौंक गई,,,, राजीव बाथरूम से बाहर आया और कमरे में दाखिल हुआ, दरवाज़ा बंद कर दिया और बिस्तर पर हमारे तरफ पैर करके लेट गया,,,, पूरा मामला ये था 9 इंच लंबी कृपाण की तरह। यह सिर उठाए खड़ा है,,,,,,
रिया ने पीछे मुड़कर देखा और उस खड़े हुए गर्म लंड को देखा और उसके मुँह से श्श्शश्श् की आवाज निकली,,,,, उसने अपने पैर मेरे कंधे से उतार लिए, अपनी चूत को मुँह से बाहर निकाला,,,, दौड़कर राजीव के खड़े लंड पर कूद पड़ी,,,, उसने ले लिया उसे मुँह में लिया और चूसने लगी, थोड़ी देर ब्लूजॉब देने के बाद उसने उसके होंठों पर हमला कर दिया, कुछ देर उसके होंठों पर अपने होंठ रखे, फिर अपने दाहिने हाथ से लंड पकड़ कर उठ कर बैठ गई और राजीव के शरीर के बीच में बैठ गई। , या अपने हाथ से लंड सैट करो अपनी ही चूत में ,,,,,,,,,,,,,,,,,,,,,,,,,,,, ,,,,,,,,,,,,,,,,,,,,,,,,,,,,,, ,,,,,,,,,,,,,,,,,,,,,,,,,,,,,, ,,,,,,,,,,,,, ,,, रिया अपना डोबका डोबका पिलाने के लिए थोड़ा नीचे झुकती है 36 साइज के दूध राजीव के चेहरे पर झूलते हैं,,,, राजीव दोनों हाथों से दो दूध जोर जोर से दबाता रहता है और चूसने लगता है दूध उसके साथ चिपक गया,,,,,

लगभग 10 से 15 मिनट की लगातार चुदाई के बाद रिया ने मेरी तरफ मुंह करके डॉगी पोजीशन ले ली,,,, राजीव ने पीछे जाकर अपना लंड चूत में सेट किया और फिर से पेलना शुरू कर दिया,,,, रिया के लटकते हुए स्तन थाप की लय में झूलने लगे ,,, ,, वो मुझे देख रहा है और चोद रहा है,,,,,,,,,,,,,,,,,,,,,,,,,,, ,,,,,,,,,,,,,,,,,,,,,,,,,,,,,

घड़ी में ठीक 1:30 बजे हैं,,, साढ़े तीन घंटे से ये चोदोनलीला चल रही है,,,, क्या पता कब ख़त्म हो! या यह अंत नहीं होगा,,,,,

राजीव ने रिया के दोनों लटकते हुए स्तनों को दोनों हाथों से दबाना शुरू कर दिया,,,,, कुछ देर ऐसे ही रहने के बाद रिया ने बिस्तर छोड़ दिया और मेरे सामने घुटनों के बल बैठ गई,,,, राजीव भी एक के बाद एक आ गया, राजीव खड़ा हो गया और रिया घुटनों के बल बैठने लगी। मेरे सामने। लंड चूसना, बस कैसे शुरू हुई,,,,Adult Hindi Kahaniya
मुझे कहानी का अंतिम चरण समझने में देर नहीं हुई,,,,

लगभग 10 मिनट तक लगातार लंड चुसवाने के बाद राजीव ने रिया के मुँह से लंड बाहर निकाला और अपने लंड को उसके चेहरे पर अपने हाथों से रगड़ने लगा, बिल्कुल पोर्न मूवी के अंत की तरह,, कुछ ही देर में, जो गर्म ताज़ा पानी था। सारी रात का जमा हुआ लंड लंड से बाहर आ रहा था, रिया के मुँह,,,, नाखून, गाल, होठों पर गिरने लगा।
सब पापा ने मेरा सोना अपनी बेटी के मुँह में डाल दिया और राजीव बिस्तर पर जाकर सो गया.
मैं अब अपने आप को रोक नहीं सका,,,, उसे उसके माथे के पास खींच लिया और रिया के होठों पर चूमना शुरू कर दिया।,

कुछ देर बाद राजीव ने कपड़े पहने और कमरे से बाहर चला गया।

फिर मैंने उसे प्यार किया, आज उसने मेरी इतने दिनों की कल्पना पूरी कर दी, मेरा उसके लिए प्यार बढ़ गया, मैंने उसे चूमा, उसके दूध चूसे। चूत चाटी
और आख़िरकार मैं चोदना चाहती थी लेकिन उसने मुझे चोदने नहीं दिया, पता नहीं क्यों,,,,

बिस्तर पर लिटा कर उसकी चूत चाटते हुए,,,, बोला –
क्या तुम खुश हो
– हाँ, बहुत प्रिय,,,,, तुमने मेरे अवास्तविक सपनों को सच कर दिया है,,, तुम क्या कहते हो मैं तुमसे प्यार करूंगा,,,,
– प्यार करने के लिए तुम्हें कुछ कहना नहीं पड़ता,,,, लेकिन मेरी एक ख्वाहिश है,,,, जो तुम्हें पूरी करनी पड़ती है
– तुम्हें जो कहना है कहो,,,,, तुम जो कहोगे मुझे मंजूर है….
– सही?
– हाँ तुम मत कहो,,,,
– क्या आप करेंगे मुझसे शादी?
– हाँ! क्यों नहीं,,, मैं तुमसे प्यार करता हूँ,,, मैं तुम्हारे बिना नहीं रह सकता,,,,
– ठीक है,,,, लेकिन मेरी ख्वाहिश ये है कि आज तक तुमने मुझे अपने किसी दोस्त के साथ फंतासी में चोदा हो, शादी के बाद मैं हर किसी से ऐसे ही चुदना चाहती हूं,,,,,, और बाकी तुम भी ऐसे ही हो मेरी जिंदगी का। गीले दूध, होंठ, चूत चाटूंगा,,,, मैं कभी नहीं झड़ पाऊंगा।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *